कचरे के ढेर में फिर दिखी इंसानों की हैवानियत

जौनपुर ।। सिपाह चौकी के पुल के समीप गड्ढे में लोगों ने लगभग 6 माह के शिशु को मृत अवस्था में देखा जिसको देखने के लिए लोगों का हुजूम लगा रहा है ‌‌‌‌‌‌‌‌‌‌‌‌‌आखिर क्यों अपने क्षणिक सुख के लिए हैवानो से भी बदतर स्थिति में गिर जाते हैं इंसान क्यों अपनी दरिंदगी से बाज नहीं आते यह इंसान रूपी दरिंदे लगभग 6 माह के मृत शिशु को कचरे में पाए जाने एक सवाल खड़ा करता है की लगता है किसी ने अपनी इंसानियत का गला घोट कर इस बच्चे को कचरे में फेंक दिया अगर यह किसी मां-बाप का लाडला होता तो शायद ऐसी स्थिति में नहीं पाया जाता जिस बच्चों को पाने के लिए लोग मंदिर मस्जिद चक्कर लगाते नहीं थकते उसी को इतनी बदतर स्थिति में पहुचाने का क्या कारण हो सकता है लेकिन कुछ भी हो किसी के हैवानियत का जीता जाता उदाहरण ही है कचरे में फेंका नौनिहाल का शव सूचना पर सिपाह चौकी प्रभारी संतोष पांडे मौके पर पहुंच गए और बच्चे को दफनाने की व्यवस्था में जुट गए।

रिपोर्टर

संबंधित पोस्ट