ग्रामीणों ने शिविर लगाकर प्रवासी मजदूरों को दिया भोजन और राहत सामग्री

भभुआ से आशुतोष कुमार

मोहनिया कैमूर आज जहां कैमूर में प्रवासियों के भोजन को लेकर राजनीतिक बवाल मचा हुआ है अपनी अपनी  पार्टी और बैनर को आगे कर राजनीति की जा रही है वहीं स्थानीय प्रखंड के पुसौली गांव के ग्रामीणों ने एनएच दो पर शिविर लगा कर प्रवासियों को भोजन और पानी के बोतल का वितरण किया। ग्रामीण अनिस सिंह , पीयूष सिंह, आदित्य, दीपक, भोलू सिंह सहित दर्जनों नवयुवक इस सेवा कार्य में सम्मिलित रहे। ग्रामीणों का कहना है कि विगत 3 दिन से यह कार्य अनवरत किया जा रहा है इसमें ना तो कोई राजनीतिक दल और ना ही किसी राजनेता का सहयोग है सब कुछ हम ग्रामीणों ने मिलकर आयोजन किया है।आयोजन के मुख्य सहयोगी अनिस सिंह ने कहा कि आज जिस तरह इस वैश्विक महामारी में मजदूरों के नाम पर राजनीति हो रही है यह राजनीति की गंदी मानसिकता का परिचायक है। अगर इसी तरह गंदी राजनीति होती रही तो वह दिन दूर नहीं जब भारत का एक बड़ा तबका जिसे आज मजदूर का नाम दे दिया गया है बर्बाद हो जाएगा। आज जिसे राजनेता मजदूर के नाम से संबोधित कर रहे हैं वहीं उन्हें वोट के नाम पर उन्हें देश का भविष्य निर्माता बताते हैं और जीत जाने के बाद उन्हीं देश निर्माता के खुद ही निर्माता बन जाते हैं ऐसी गंदी राजनीति का हम पुसौली के सभी नवयुवक पुरजोर विरोध करेंगे।

रिपोर्टर

संबंधित पोस्ट