वाराणसी में इंडिया कार्पेट एक्सपो मेले का आगाज

रिपोर्ट-राम मोहन अग्निहोत्री

भदोही। कालीन निर्यात संवर्धन परिषद की ओर से 21 अक्टूबर रविवार वाराणसी के प.दीनदयाल हस्तकला संकुल व्यापार सुविधा केंद्र और शिल्प संग्रहालय बड़ा लालपुर में आयोजन होने जा रहा है।मेले में 270 निर्यातक व 300 आयातक भाग ले रहे है।मेले में दो नये देश उजबेकिस्तान व धाना के भी आयातक आ रहे है।इंडिया कार्पेट एक्सपो का उद्घाटन भारत सरकार के वाणिज्य मंत्रालय सचिव आईएएस अनूप बधावन करेंगे।गुरुवार को नगर के होटल शिराज में सीईपीसी के अध्यक्ष महावीर प्रताप शर्मा व प्रथम उपाध्यक्ष सिद्धनाथ सिंह ने अन्य सदस्यों संग बैठक कर बताया कि सीईपीसी का कालीन मेला 36वां वाराणसी में शानदार 14 वां वर्ष है।मेले का उद्देश्य हस्तनिर्मित भारतीय कालीन और अन्य फ्लोर कवरिंग के सांस्कृतिक विरासत और बुनाई कौशल को बढावा देना है।कालीन मेले में विदेशी खरीदारों व उनके भारतीय प्रतिनिधियों तथा भारतीय कालीन निर्माता और निर्यातकों को दीर्घकालिक व्यापार संबंधो को पूरा करने के लिए एक आदर्श मंच है।इंडिया कार्पेट एक्सपो एशिया महाद्वीप में लगने वाले मेले में एक है।जो विभिन्न कालीन खरीदारों के लिए एक छत के नीचे सर्वश्रेष्ठ हस्तनिर्मित कालीन व अन्य फ्लोर कवरिंग को उपलब्ध कराने के लिए एक अद्वितीय मंच है।प्रथम उपाध्यक्ष ने कहां कि सीईपीसी निरंतर कालीन उद्योग के उत्थान को लेकर गम्भीर है।इस मेले में भदोही मीरजापुर सहित आस पास के निर्यातकों सहित विभिन्न देशो के आयातक प्रतिभाग कर रहे है।कुछ नये देशो के आयातक को भी बुलाया गया है।वाराणसी का यह कालीन मेला कालीन उद्योग की दिशा व दशा तय करेंगी।प्रेस वार्ता में द्वितीय उपाध्यक्ष उमर हमीद, वासिफ अंसारी, उमेश गुप्ता मुन्ना, हाजी अब्दुल रब, फिरोज वजीरी, ओमकार नाथ मिश्र, राजेन्द्र मिश्र, विजय कुमार सिन्हा आदि उपस्थित रहे।

रिपोर्टर

संबंधित पोस्ट