भदोही के कोतवाल ने रामलीला मेले के समापन अवसर पर छात्राओं को किया पुरस्कृत

ज्ञानपुर,भदोही ।। कोतवाली क्षेत्र के रयां। गांव में  सैकड़ों वर्षो से रामलीला का मंचन किया जा रहा है। ऐतिहासिक रामलीला का गुरुवार को धूमधाम के साथ खुशनुमा माहौल में समापन हो गया 175 वर्ष पुरानी परंपरा का विधिवत जहां निर्वहन किया गया। वहीं इस परंपरा के बारे में बताया गया 175 वर्ष के ऊपर हो गया है। इस रामलीला को यह लीला  प्रारंभ हुई जब इस गांव में स्वर्गीय बाबू राज नारायण सिंह जी और लल्ला सिंह जी उनके पूर्वजों द्वारा मंदिर की स्थापना की गई और वही पर रामलीला भी शुरू करवाई गई धीरे-धीरे यह परंपरा मेले का रूप धारण कर विशाल रूप में होने लगी आसपास के लोग उस मेले में पहुंचने लगे दूरदराज से दुकानदार मेले में महिलाओं के सौंदर्य प्रसाधन चाट फुल्की बच्चों के खिलौने आदि  कि दुकाने दीपावली के 1 दिन बाद सज जाती हैं उस गांव में दीपावली के अगले दिन लगने वाला यह मेला 10 दिन की रामलीला के मंचन के बाद वहां लगता है गांव में पूरे दिन मेले का वातावरण बना रहता है। कच्चे रास्ते पगडंडियों से मेले में बच्चे महिलाएं वृद्ध आते रहते हैं मेले की खास बात यह है दोपहर बाद से यह मेला शाम तक हर वर्ग के लिए खुला रहता है उसके बाद पूरी रात्रि मेले में मंच पर रंगारंग कार्यक्रम होता है। कुछ लीलाएं होती हैं किसी नाटक का मंचन होता है। और मेला पूरी रात चलता है। जिसमे सिर्फ महिलाएं बहू बेटियां मेले में खरीददारी कर सकती हैं। पुरुष वर्ग को मनाही  रहती है। मेले में रामलीला के मंच पर प्रत्येक वर्ष गांव के मेधावी छात्रों को भी पुरस्कृत किया जाता है। जिन्होंने हाईस्कूल व इंटर की परीक्षा में सर्वाधिक अंक प्राप्त किया होता है। बतौर मुख्य अतिथि पहुंचे भदोही के कोतवाल नवीन तिवारी जी ने उन मेधावी छात्रों को जहां पुरस्कृत किया वही कहा छात्र जब अपनी सफलता की सीढ़ी पर चढ़ता है। इस बात का यकीन होता है कि अब मैं अपनी मंजिल की तरफ धीरे धीरे अग्रसर हो रहा हूं हमेशा उसे आगे बढ़ते रहना चाहिए और कोशिश होनी चाहिए पढ़ाई कभी व्यर्थ नहीं होती इंसान को एक दूसरे की सहायता मानवता के लिए करनी चाहिए रामलीला करवा रही समिति का सबसे सराहनीय कार्य यह होता है, कि वह अपने मंच के माध्यम से बेटी पढ़ाओ बेटी बढ़ाओ का नारा बुलंद कर रहे हैं। और बेटियों को सम्मानित भी करते हैं। मंच पर अवसर पर रामेश्वर सिंह उर्फ बेचू सनी सिंह नीतू सिंह राहुल सिंह समिति के अध्यक्ष श्री धर्मेंद्र सिंह मौजूद रहे।

रिपोर्टर

संबंधित पोस्ट