बिजली मैकेनिकों ने शुरू किया बेमियादी धरना

देवरिया। बिजली निगम में आउटसोर्सिंग से तैनात मैकेनिकों को 11 माह से मानदेय नहीं मिला है। आर्थिक तंगी से जूझ रहे मकैनिकों ने बुधवार को एक्सईएन कार्यालय कैंपस में धरना दिया। ठेकेदार पर मनमानी का आरोप लगाते हुए मानदेय नहीं मिलने तक आंदोलन जारी रखने की चेतावनी दी है।

विद्युत संविदा मजदूर संगठन के जिलाध्यक्ष राजेश्वर सिंह ने कहा कि देवरिया विद्युत वितरण केंद्र से जुड़े विद्युत उपकेंद्रों पर 45 मैकेनिकों को ठेकेदार के माध्यम से बिजली निगम ने रखा था। फरवरी से इन मैकेनिकों से कार्य लिया जा रहा है। लेकिन एक भी रुपये मानदेय आज तक नहीं दिया गया। बीच में मानदेय के लिए दबाव डाला गया तो ठेकेदार ने निगम से रुपये का भुगतान नहीं होने के बात कहा था। इसकी वजह से मैकेनिकों के सामने आर्थिक परेशानी बढ़ गई है। विभागीय अफसर भी इसको लेकर खामोश है। मंडल उपाध्यक्ष हरिलाल सिंह ने कहा कि बकाया मानदेय पाने के लिए मैकेनिकों आर-पार की लड़ाई लड़ेंगे। ठेकेदार निगम के अफसरों की मिलीभगत से मानदेय का रकम हड़पना चाहता है। कृष्ण मुरारी मौर्या ने कहा कि प्रत्येक माह पॉवर कॉर्पोरेशन से ठेकेदार को मानदेय का रकम दिया गया है, लेकिन मैकेनिकों तक नहीं पहुंचा है। इस दौरान प्रभुनाथ सिंह, हरेंद्र, आनंद सिंह, प्रमोद, अमर, राजेश, सुधीर, कृष्णा, हरिहर, गुरुदेव, रामअशीष, अशोक, रामहरक, अजय उपाध्याय, संतोष आदि मौजूद रहे।


रिपोर्टर

संबंधित पोस्ट