घायल बच्चों का वाराणसी ट्रामा सेंटर मे चल रहा उपचार

रिपोर्ट राममोहन अग्निहोत्री

ज्ञानपुर,भदोही। जिले के ज्ञानपुर थानान्तर्गत एस. सी. कान्वेंट के स्कूल वैन में गैस सिलेंडर फटने से स्कूली वैन आग का शोला बन गई जिसमें सवार दर्जनों बच्चों  के चीखने चिल्लाने की पुकार सुनकर स्थित अचानक  काफी ह्रदय विदारक हो गई।इसी बीच मौका पाकर वैन का चालक वाहन छोड़कर भाग निकला ।आग लगने के हादसे का मंजर देखकर लोगों के कलेजे कांप उठे। सूचना पाकर घटनास्थल पर तत्काल अधिकारियों ने पहुंच कर स्थिति को संभाल लिया और बचाव कार्य शुरू करा दिया। तथा   घायल सभी बच्चों को जिला चिकित्सालय, व गोपीगंज अस्पतालों मे प्राथमिक उपचार के पश्चात वाराणसी के लिए बच्चों के गंभीर हालत को देखते हुए रेफर करने के आदेश दिए। सभी बच्चों को वाराणसी रेफर कर दिया गया है। जिसेमें तीन बच्चों की हालत चिंताजनक बनी हुई है। बच्चों को स्कूल लेकर जा रही वैन के सिलेण्डर में अचानक आग लगने से वैन में आग पकड़ ली। इसके पश्चातवैनकाचालकदरवाजाखोलकरभागनिकला।जिलाधिकारी राजेन्द्र प्रसाद के अनुसार यह मंजर देख रही सीता देवी नामक महिला और उसकी बहू ने बच्चों को बाहर निकाला। मंजर देखकर और भी लोग मदद को आगे आ गये। सभी बच्चों को स्थानीय अस्पताल में भर्ती कराया गया। जहां हालत चिंताजनक होने पर सभी ब्च्चों को वाराणसी रेफर किया गया है। जिलाधिकारी ने स्कूल संचालकों के खिलाफ जांच के आदेश जारी किए हैं। घटना के संबंध में बताया जाता है कि जिले के ज्ञानपुर थानान्तर्गत एस.सी. कान्वेंट के स्कूल वैन में आग लगने के हादसे का मंजर देखकर लोगों के दिल दहल उठा। सूचना पाकर मौके पर अधिकारियों का जमावड़ा हो गया। सभी बच्चों को वाराणसी रेफर कर दिया गया है। जिसेमें तीन बच्चों की हालत चिंताजनक बनी हुई है।बता दें कि बच्चों को स्कूल लेकर जा रही वैन के सिलेण्डर में अचानक आग लगने से वैन में आग पकड़ ली। इसके पश्चात वैन का चालक दरवाजा खोलकर भाग निकला। सभी बच्चों को स्थानीय अस्पताल में भर्ती कराया गया। जहां हालत चिंताजनक होने पर सभी ब्च्चों को वाराणसी रेफर किया गया है।इस दर्दनाक घटना में प्रिंस 5 वर्ष पुत्र सुजीत निवासी शिवरामपुर, विराट 5 वर्ष पुत्र मुनेश निवासी शिवरामपुर, आब्या 5 वर्ष पुत्र संजय यादव निवासी भगवास, रानी 6 वर्ष पुत्री एवं पता अज्ञात, इसी प्रकार 5 वर्षीय छात्रा जो गंभीर रूप से झुलसी है उसका भी नाम पता अज्ञात आयुष 6 वर्ष पुत्र सुरेंद्र कुमार निवासी भगवास, माही 5 वर्ष पुत्री सुरेंद्र कुमार निवासी भगवास, अभिषेक 5 वर्ष पुत्र बद्रीनाथ शुक्ला निवासी लखनो, सीता शुक्ला 55 वर्ष पत्नी जय शंकर निवासी लखनो, अनिकेत 8 वर्ष पुत्र गणेश निवासी शिवरामपुर, साधना 8 वर्ष पुत्री राजेश निवासी शिवरामपुर, अश्वनी 5 वर्ष पुत्र अजय यादव निवासी भगवास, किंजल 6 वर्ष पुत्र रमेश निवासी शिवरामपुर तथा गोविंद 10 वर्ष पुत्र राजेश निवासी शिवरामपुर शामिल हैं। सभी छात्र 30 से 40 परसेंट जले होने की सूचना है। सभी छात्रों को रेफर कर दिया गया है। महाराजा चेत सिंह अस्पताल के इमरजेंसी मेडिकल ऑफिसर ने बताया कि दो बच्चियां गंभीर रूप से झुलसी है शेष 25 से 30 प्रतिशत जली हैं।  जिलाधिकारी ने कहा पूरे मामले की जांच करके कार्यवाही की जाएगी।हमारे क्राइम रिपोर्टर नरेंद्र दुबे के अनुसार स्कूल वैन में आग लगने का मामला, काफी गंभीर है। एस. सी.कान्वेंट स्कूल की बड़ी लापरवाही से हुआ यह हादसा वाकई हृदय को झकझोरने वाली है। स्कूली वैन रसोई गैस सिलेंडर से चलाई जा रही थी आखिर इसका जिम्मेदार कौन होगा? हादसे के बारे में आला अधिकारी जवाब देने से कतराते नजर आते रहे। गत वर्ष इसी तरह कैयर मऊ औराई की इस घटना के पश्चात प्रशासन ने जनपद के स्कूल संचालकों के ऊपर कठोर कार्रवाई नहीं की जिसके परिणाम स्वरूप स्कूल संचालक अपनी मनमानी करते रहे जिसका परिणाम है आज की स्कूली वैन की जलने से दर्जनों बच्चों के झुलसने की घटना। इस घटना की पुनरा वृत्ति का जिम्मेदार किसे माना जाए!स्कूलकी वैन,वैन चालक बच्चों को तड़पता छोड़कर  फरार होने के मामले को प्रशासन ने गंभीरता से लेते हुए जहां जांच के आदेश दिए वहीं बेहतर इलाज के लिए, सभी 13 बच्चो को वाराणसी रेफर किया गया है।जिसमे,तीन बच्चों की हालत नाजुक बनी हुई है।

रिपोर्टर

संबंधित पोस्ट