ग्राम पंचायत सदस्यों की मांगों को लेकर ग्रामीणों ने मुख्यमंत्री का पुतला फूंका

रिपोर्ट-राम मोहन अग्निहोत्री

सुरियावां, भदोही ।। ग्राम पंचायत सदस्यों को वेतन एवं पेंशन की मांग को लेकर चलाए जा रहे क्रमिक अनशन एवं धरना प्रदर्शन के एक माह बीत जाने के उपरांत किसी भी अधिकारी बड़े राजनेता सांसद एवं विधायक का समर्थन न मिलने एवं उनकी मांगों को प्रदेश के मुख्यमंत्री एवं केंद्र के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी तक बात नहीं पहुंचाए जाने के मामले  को लेकर गुस्साए ग्रामीणों ने आज प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ का पुतला फूंका एवं विरोध प्रकट किया। इस बीच ग्रामीणों ने सरकार विरोधी नारे भी लगाए।सुरियावा क्षेत्र के खरगपुर ब्रम बाबा के स्थान पर चल रहे अखिल भारतीय ग्राम पंचायत सदस्य समिति के तरफ से क्रमिक अनशन 31वे दिन भी जारी रहा एक माह पुरे होने पर अधिकारी व प्रतिनिधि के न आने से मुख्यमंत्री आदित्यनाथ योगी का पुतला फुका गया।इस मौके पर समिति के राष्ट्रीय अध्यक्ष राम बहादुर बिन्द ने भारी संख्या में उपस्थित नागरिकों को संबोधित करते हुए कहा कि ग्राम पंचायत सदस्यों के मामले में हमारी मांगे जायज है  केंद्र एवं प्रदेश में बैठे सरकार के लोगों को ग्राम पंचायत सदस्यों की पीड़ा  समझनी होगी  एवं उनके मांगों को पूरा करना होगा  तभी  महात्मा गांधी के  आदर्शो की पूर्ति हो सकेगी। उन्होंने कहा किसी भी केंद्र एवं प्रदेश की राज्य सरकारों को चुनने का काम ग्रामसभा के पंचायत सदस्यों द्वारा ही किया जाता रहा है। परंतु  इस दिशा में अभी तक किसी भी सरकार ने ग्राम पंचायत सदस्यों के बारे में  कोई भी  सुविधा की बात नहीं की जो  सरासर अन्याय है। अब हम इसे बर्दाश्त नहीं करेंगे और अपना अधिकार ले करके ही रहेंगे। संकल्प व्यक्त करते हुए ग्राम पंचायत सदस्य समिति के   राष्ट्रीय अध्यक्ष श्री बिन्द ने कहा कि  वर्तमान में लोकसभा का चुनाव आसन्न है ऐसे में केंद्र एवं प्रदेश के सरकारों की और अन्य दलों के नेताओं की यह जिम्मेदारी बनती है कि वे ग्राम पंचायत सदस्यों के बारे में अपना समर्थन दें  और उनके अधिकारों वेतन एवं पेंशन की मांग को  यो जायज मांग है  पूरी करने में सक्रिय भूमिका निभाएं  तभी न्याय हो सकेगा । पुतला दहन के पश्चात सभा को संबोधित करते हुए अन्य वक्ता ग्राम पंचायत सदस्य समिति के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष  रमेश चंद यादव ददा ने कहा की देश एवं प्रदेश के अन्य प्रांतों के ग्राम पंचायत सदस्य अब जागरूक हो गए हैं और अपने अधिकारों की लड़ाई के लिए ताल ठोक कर मैदान में खड़े हैं अब और जुल्म और सितम नहीं सहेंगे अपने अधिकार वेतन एवं पेंशन की मांग को मनवा कर ही दम लेंगे इस आशय की घोषणा करते हुए देशभर के ग्राम पंचायत सदस्य समिति के सदस्यों का आवाहन किया।  राष्ट्रीय महासचिव दिनेश यादव ददा ने कहा कि आजादी के 72 वर्ष बीत जाने के बाद भी ग्राम सभा एवं पंचायतें अपने मूलभूत अधिकारों से वंचित हैं जिसमें ग्राम सभा स्तर के पंचायत सदस्यों की स्थिति और भी दयनीय है ऐसे में सरकार का यह दायित्व बनता है कि वे ग्राम पंचायत सदस्यों को भी अधिकार वेतन एवं पेंशन क्यों की जायज मांगों को पूरा कर उन्हें भी आर्थिक रूप से संपन्न बनाने का कार्य करें।इस अवसर पर राम बहादुर बिन्द,रमेश चंद यादव ददा,दिनेश यादव दादा,सर्वेश यादव,भारत गौतम,अनिल यादव,फौजदार ,पन्धारी यादव,कपिल बिन्द,पारस यादव,लपई यादव ,तेज बहादुर,श्याम,सीता सरोज ,आदि लोग उपस्थित रहे।

रिपोर्टर

संबंधित पोस्ट