कांग्रेस प्रत्यासी के जमानत जब्त के लिए स्थानीय नेता जिम्मेदार - मसूद आलम

रिपोर्ट-राम मोहन अग्निहोत्री 

भदोही ।। संसदीय सीट 78 में कांग्रेस प्रत्यासी की जमानत तक न बच पाने के लिए भदोही के स्थानी नेता ही जिम्मेदार है।जो अपने चहेतो को फायदा पहुंचाने के लिए प्रत्यासी व पार्टी दोनो के साख पर बट्टा लगाने का काम किया।ऐसे कांग्रेस के स्वार्थी नेताओ को ईश्वर सत् बुद्धि दे।कांग्रेस के पीसीसी सदस्य मसूद आलम ने कहा कि लोकसभा चुनाव में कांग्रेस से प्रत्यासी घोषित होने के बाद ऐसे ऐसे कार्यकर्त्ता कांग्रेस का टोपी बिल्ला लगा कर सक्रीय हो गये मानो यही लोग कांग्रेस की आगे बढा रहे है।जबकि पार्टी के बड़े नेता सब कुछ जानते हुए भी ऐसे स्वार्थी कार्यकर्ताओ का ही समर्थन करते रहे।हालाकि इसमें प्रत्यासी की कोई गलती नही है।वो तो यहा के माहौल से अंजान थे।और जब तक प्रत्यासी वास्तविकता समझे कुछ करने का समय निकल चूका था।मसूद आलम ने कहा कि बड़ा दुख हुआ और मै शुरुआत में समझाने की कोशिश भी किया लेकिन तब सब भ्रमित थे।आंख पर पट्टी पड़ गया था।बड़े दुख की बात है कि प्रत्यासी का नगर के प्रमुख अखबारो से भेट तक नही हो सका।पीसीसी सदस्य ने कहा कि शुरुआत से ही पार्टी के समर्पित लोगो की सुनी जाती तो परिणाम सम्मान जनक होता।

रिपोर्टर

संबंधित पोस्ट