जय बजरंग ग्रुप द्वारा शंखनाद प्रतियोगिता का अद्वितीय आयोजन

मुंबई ।। नायगांव पूर्व के गोकुल संकुल में विजयदशमी के पावन अवसर पर शंखनाद प्रतियोगिता का अद्वितीय आयोजन जय बजरंग ग्रुप द्वारा किया गया। इस कार्यक्रम में बच्चो, महिलाओ एवँ पुरुषों ने बढ़-चढ़ कर भाग लिया।

जय बजरंग ग्रुप ने गणपति एवं दुर्गा के सभी पंडालो एवं सभी बिल्डिंग व सोसायटियो से आग्रह किया कि वो सभी प्रतिवर्ष शंखनाद प्रतियोगिता का आयोजन करें जिससे शंखनाद का वैज्ञानिक महत्व के साथ स्वास्थ्य लाभ का बोध हो सके।

वैज्ञानिकों का मानना है कि शंख की आवाज से वातावरण में मौजूद कई तरह के जीवाणुओं-कीटाणुओं का नाश हो जाता है कई टेस्ट से इस तरह के नतीजे मिले हैं वही शंख बजाने से फेफड़े का व्यायाम होता है। पुराणों में इसका जिक्र मिलता है कि अगर श्वास का रोगी नियमि‍त तौर पर शंख बजाए तो वह बीमारी से मुक्त हो सकता है।

शंख में रखे पानी का सेवन करने से हड्डियां मजबूत होती हैं। यह दांतों के लिए भी लाभदायक है शंख में कैल्श‍ियम, फास्फोरस व गंधक के गुण होने की वजह से यह फायदेमंद है।

पुरुषो वर्ग में श्री राजीव सिंह, वीरेंद्र तिवारी एवं संतोष मिश्रा ने क्रमशः प्रथम, द्वतीय एवं तृतीय पुरस्कार प्राप्त किया। महिलाओं के वर्ग में ममता तिवारी, आर्या भ्रातद्वाज, अर्चना शर्मा  ने क्रमशः प्रथम, द्वतीय एवं तृतीय पुरस्कार प्राप्त किया तो बच्चो के वर्ग में सप्त दुबे, सत्यम कुड़वा एवं आर्यन पटेल ने क्रमशः प्रथम, द्वतीय एवं तृतीय पुरस्कार प्राप्त किया इस अद्वितीय कार्यक्रम में पधारे हुए सभी लोगो का जय बजरंग ग्रुप ने हृदय से आभार प्रकट किया।

रिपोर्टर

संबंधित पोस्ट