शिनाख्त के बाद क्राइम ब्रांच और लोहता पुलिस द्वारा खुलासा, हत्या में शामिल तीन अभियुक्त गिरफ्तार

हरहुआ ।। हरहुआ बड़ागांव थाना अंतर्गत काशी कृषक इंटर कॉलेज के कार्यालय मे पुलिस अधीक्षक ग्रामीण अमित कुमार वर्मा ने आज लोहता क्षेत्र के केराकतपुर छावनी की झाड़ी मे दो सितम्बर गुरुवार को हत्या कर फेके गये शव का खुलाशा करते हुये कहा कि मृतक की पहचान सुमित कुमार तिवारी निवासी ग्राम चकसुदामा पीपरगाव थाना औराई भदोही के रूप मे मृतक के भाई अमित कुमार तिवारी द्वारा सात सितम्बर को लोहता थाने पहुच कर फोटो व कपड़ा से करने के बाद तहरीर दे कर धारा 302/201 अज्ञात लोगो के बिरुद्ध दर्ज कराई थी।

मुकदमा दर्ज़ होने के बाद थानाध्यक्ष लोहता विश्वनाथ प्रताप सिंह ने अपने उच्चाधिकारियो को प्रकरण से अवगत कराया और खुलाशा करने हेतू क्राईम ब्रांच के साथ मिल कर टीम गठित करने के बाद हत्यारो की खोज बीन मे जुट गई थी। घटना क्रम ने सीसीटीवी फुटेज,सर्विलांस तथा अन्य साक्ष्य संकलित कर 10 सितम्बर शुक्रवार को भोर मे अकेलवा चौराहे से हत्याभियुक्त सुबास सिंह कन्नाडाड़ी टड़िया रोहनिया,अशोक कुमार गौतम भक्तापुर औराई भदोही हाल पता कलेक्ट्री फ़ार्म चांदपूर वाराणसी,बिनोद सिंह इंद्रामिल कोतवाली भदोही हालपता कलेक्ट्री फ़ार्म चांदपूर वाराणसी को गिरफ्तार करने मे सफलता प्राप्त की है। पकड़े गये हत्याभियुक्तो के खिलाफ लंका,रोहनिया थाने मे पहले से ही आपराधिक मुकदमे दर्ज़ है।

अभियुक्तगणों के कब्जे से मृतक सुमित कुमार तिवरी का मोबाइल, पर्स, पैसा, आधार कार्ड, पहचान पत्र व हत्या में प्रयुक्त टेम्पो बरामद किया गया। गिरफ्तार अभियुक्तगणों से पूछताछ एवं अन्य साक्ष्य संकलन से यह तथ्य प्रकाश में आया कि मृतक सुमित कुमार तिवारी चम्पा एग्रो कम्पनी रामनगर वाराणसी में  गार्ड का कार्य करता था दिनांक एक सितम्बर को मृतक सुमित अपना 6,250/- रुपये वेतन लेकर अपनी मौसी के घर भुल्लनपुर पीएसी के पास गया था। जहा से वह रोहनिया क्षेत्र में शराब पीने के पश्चात सायं 05.00 बजे के आस-पास अपने घर औराई के लिए निकला। राजातालाब हाइवे के पास अभियुक्तगण अपनी टेम्पो लेकर मिले। अभियुक्तगण द्वारा मृतक सुमित को सवारी के रुप में टेम्पो में बैठा लिया गया। रास्ते में मृतक के शराब के नशे में होने के कारण अभियुक्तगण द्वारा भी शराब लेने के लिए पैसे की मांग की गयी मृतक शराब खरीदने के लिए पैसा देने के लिए तैयार हो गया। इसी दौरान मृतक के जेब में पैसे की गड्डी देखकर टेम्पो में बैठे अभियुक्त सुभाष सिंह चौहान, विनोद सिंह के मन में लालच आ गया पैसा लेने के उद्देश्य से मृतक को मारने पीटने लगे तथा गमछे से गला घोंट दिये। अभियुक्त अशोक टेम्पो चला रहा था। मृतक का पैसा, पर्स व मोबाइल लेकर ऑटो से रिंग रोड व लोहता बाजार होते हुए छावनी केराकतपुर के पास सुनसान स्थान देखकर मृत समझ कर झाड़ियों में फेंककर भाग गये थे।

गिरफ्तार करने वाली पुलिस टीम मे क्राइम ब्रान्च प्रभारी अश्वनी कुमार चतुर्वेदी, लोहता थानाध्यक्ष विश्वनाथ प्रताप सिंह, हे0 का0 संतोष पासवान आदि थे।

रिपोर्टर

संबंधित पोस्ट